1. 7

    बिद्यावान गुनी अति चातुर । राम काज करिबे को आतुर ॥ ७ ॥

    You are the wisest of the wise, virtuous and (morally) clever. You are always eager to do Lord Rama's works. ॥ 7 ॥

    आप प्रकान्ड विद्या निधान है, गुणवान और अत्यन्त कार्य कुशल होकर श्री राम के काज करने के लिए आतुर रहते है। ॥ ७ ॥